आबरू लूटकर दरिंदों ने निर्वस्त्र कर खम्भे लटकाया ।

बिहार: दरिंदों ने इज्जत दागदार कर नारी को खम्भे से लटकाया ।

बिहार: मामला समस्तीपुर जिले में एक और हैवानियत,शर्म की कगार तक पहुंची मानवता। महिला के साथ कुछ लोगों ने गैंगरेप कर डाला,इतने पर ही आरोपियों को बोध न हुआ और पीड़िता को बेहोशी की हालत में बिजली के खंभे पर नग्न अवस्था में लटका कर अपनी हिंशात्मक सोंच को निर्भयता से कानून और समाज के सामने पेश किया।

बिहार: समस्तीपुर जिले से एक और कलयुग के बढ़ते काले युग का संदेश देने वाली खबर सामने आई है। यहां के विभूतिपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक गांव में मानवता को शर्मसार करने वाली वीभत्स वारदात को अंजाम दिया गया। दरअसल, चकहबीब गांव में मंगलवार 25/05/2021 सुबह घर से नित्य क्रिया के लिए निकली एक महिला के साथ कुछ दरिंदों ने मिलकर जबरन सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। इस घिनौने कृत से भी जब आरोपियों का दिल नहीं भरा तो उन्होंने ने हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए अपनी गंदी सोंच की पराकाष्ठा का प्रदर्शन भी किया।
इस असहनीय निर्मम अत्याचार से बेचेत महिला को नग्न अवस्था में फंदे के सहारे बिजली के खंभे पर लटका दिया। ग्रामीणों द्वारा घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने महिला को गंभीर हालत में सदर अस्पताल में भर्ती कराया और मामले की जांच,पूछताछ कर रही है।

आखिर यह घटना और पूर्व में हो चुकी ऐसी घिनौनी वारदातें क्या समाज का चेहरा बनती जा रही है?
क्या ऐसे भारत की ही नींव रखी थी हमारे महापुरुषों ने ?
क्या हम अपनी आगे आने वाली पीढ़ी को ऐसा ही संदेश देना चाहते हैं?
क्या यही हमारी बहादुरी का उदाहरण है?
क्या यहीं महाराणा प्रताप और आजाद पैदा हुए थे ?